DO NOT MISS

Friday, December 28, 2018

[Hindi and English Lyrics] Loser Dino James lyrics



How would you call Dino James a loser anymore after listing to these song lyrics.

What is up beautiful people.Today we going to post Loser Dino James lyrics.

loser song Dino James lyrics are about life of a guy ( probably Dino James himself) which struggles with his complexes and his situation.You are going to fall for these lyrics for sure.

So, without any further ado, let’s jump straight into loser ft Dino James lyrics.


Loser Dino ft James lyrics



Details of Loser Dino James lyrics


Singer: Dino James
Lyrics: Dino James

Release date: October 17, 2016


Watch Loser Dino James song here-








Loser Dino James lyrics in English



Yeh duniya ek sabse bade loser ki hai dastan
Usko tha vardan fatti rahegi
Aur hamesha rahega woh pareshan
Struggle aur kangaali mein hi
Nikalega uska sara jeevan
Aur koi nahi yeh badnaseem bhai
Sahab main hi hoon woh mahan

Hamesha himmat thi laachar
Aur honsle the mere bimaar
Failure ke sagar mein khali pada tha
Umeedon ka bichaya jaal
Darta tha yaar kahani ka sala nikalega
Diya nahi koi saath
Ya mere sare pay notes
Sacrifices ho jayeinge yun bekaar




Koi function mein jata nahi tha
Kyunki dhang ke kapde nahi the
Aur jhoot bolta tha doston se
Ke samaj kaam mein fasa hua hoon na be
Day by day akele kaatne ko
Daudta tha yeh shehar bombay
Aur kitni zor se chikhun ki
Aapko meri aawaz sunayi de



Lalchata tha apni basic zarooraton ki
Cheezon ko dekh dekh
Chai pe jee raha tha jab dost kha rahe the cakes
Takes aur protein shakes jaise
Taise phone ko chala raha tha
Laga laga ke cello tapes
Chillaron ki aawaz se hi
Hamesha bajti rehti thi meri jeb

Sab dete hain prawachan kyunki unki life chal rahi hai tanatan
Lekin jab halat ho jaye tang saare raaste ho jaye band
Shakal ka udaa hua ho rang aur udaas rehta ho mann
Tab jhand samajh mein aata hai koi bhajan aur motivation

Fir kaahe ka vyavhar aur kon saale yaar rishtedaar
Woh baat karte bhi hain sambhalkar
Kahin yeh wapis mang na le udhaar
Ab toh thaan liya tha kitna bhi samay mujhe karde lachaar
Is war mein toh at least nahi dalne wala hoon main apne hathyaar

Dhundli thi rahein aur anjana tha safar
Kismat ka kyun barsa mujhpe aisa kaher
Bejaan thi zindagi aur khuda tha bekhabar
Zindagi se haara hoon main hoon aisa loser

Kisi ki bhi shakal pe nahi likha rehta hai unka sach
Isliye ankhein meech kar mat karna kisi ko bhi yunhi judge
Ho sakta hai isiliye kho raha hai woh baar baar apna dheeraj
Kyunki shayad anaaj lene ke paise
Bhi ni kar pa raha hai behcara kharch





Kaam milne ki charcha ko ab ek ho gaya tha arsa
Yeh woh badal the jo garja par kabhi nahi tha sala barsa
Maa ko ek choti si khushkhabri sunane salon main tha tarsa
Phir jhooth bol diya karta tha abey marta kya na karta

Phir akela hua toh pata laga
Mera himmat hi mera asli saathi hai
Aur iss ladai ko ladne ke liye
Mera khud ka saath hi mera liye kaafi hai
Ek aawaz bolti thi khatam nahi hua be
Picture abhi baaki hai
Har kutte ka din aata hai
Saale phir toh tu ek chota haathi hai

Dhundli thi rahein aur anjana tha safar
Kismat ka kyun barsa mujhpe aisa kaher
Bejaan thi zindagi aur khuda tha bekhabar
Zindagi se haara hoon main hoon aisa loser

Cheekhne ko mann karta tha
Koi saala meri halat bhi toh dekho
Kutte jaise halaton mein raha hoon
Main jaane kitne mahino
Dhang se khaya bhi nahi tha
Kitne dino se maine you know
Lekin ek baar kisi ke muh se yeh nahi nikla
Ki tere ko kuch chahiye dino



Kyunki asliyat yeh hai
Koi bhi nahi chahata tumhara bhala ho jaye
Kehne ko sab saath hai
Par akele ladni hai meri bhai tere ko ladayi
Par dekhna sab aa jayenge hissa maangne
Jab fasal ki hogi katayi
Yeh zaroori nahi kisi ki raye ban jaye ab teri sachayi

Main janta hoon kaise ghut ghut ke jheli hai maine ye saza
Par dil kehta tha raja bahut jald aane wala hai ek number maza
Sab bhikra hua tha par vishvas tha main fail nahi ho sakta
Kyunki ghar pe bhooki pyasi dharne pe baithi hai meri maa

Khud se jag haar ke jayega tu kidhar
Tujhko lana padega ladne ka jigar
Honge sach sapne bas thoda aur kar sabar
Tujhe bhi jeetna hai sun le tu loser



Loser Dino James lyrics in Hindi




ये दुनीया इक सबसे बड़े लूज़र की दास्तान

उसको था वरदान फटी रहगी

और हमेशा रहगे वो परेशान

स्ट्रगल और कंगाली में ही

निकलेगा उसका सारा जीवन

और कोइ नहीं यह बदनसीब भाई

साहब में ही हूं वो महान



हमेशा हिम्मत्त थी लाचार

और होसले थे बिमार

फेलियर के सागर में खाली पडा था

उमीदों का बिछाया जाल

डरता था यार कहनी का साला निकलेगा

दीया नहीं कोई साथ

या मेरे सारे पे नोट्स

सैक्रिफाइस हो जायेंगे यूँ बेकार



कोई फंक्शन मे जाता नहीं था

क्युंकी ढंग के कपडे नहीं थे

और झूट बोलता था दोस्त से

के समझ काम में फसा हुआ हूँना बे

डे बाय डे अकेले काटने को

दौड़ता था ये शहर बॉम्बे

और कितनी ज़ोर से चिखुन की

आपको मेरी अवाज सुनाई दे



लालचाता था अपनी बेसिक जरूरतों की

चीजों को देख देख

चाय पि जी रहा था दोस्त खा रहे थे केक

टैकस और प्रोटीन शेक्स जैसे

तैसे फोन को चल रहा था

लगा लगा के सेलो टेप्स

चिल्लरों के आवाज से

हमेशा बजती रहती थी मेरी जेब



सब देते हैं प्रवाचन क्यूंकि उनकी लाइफ चल रही है टनाटन

लेकिन जब हालत हो जाए त्तंग सरे रस्ते हो जाये बंद

शकल का उड़ा हुआ हो रंग उडास का रहता हो मन

तब झंड समझ में आता है कोई भजन और मोटिवेशन



फिर काहे का व्यवहार और कौन साले यार रिश्तेदार

वो बात करते भी हैं संभलकर

कहिन ये वापिस न मांग ले उधार

अब तो ठान लिया था कितना भी समय मुझे कर दे लाचार

इस वार में तो एटलीस्ट नहीं डालने वाला हूँ मैं अपने हथियार



धुंधली थी राहें और अनजान था सफ़र

किस्मत का क्यूँ मुझे पे बरसा ऐसा कहर

बेजान थी जिंदगी और खुदा था बेखबर

ज़िन्दगी से हारा हूं मैं हूँ ऐसा मैं लूज़र





किसी की भी शकल पे नहीं लिखा रहेता है उनका सच

इसलिऐ आखें मींच कर किसी को भी मत करना यूँही जज

हो सकता है इसीलिए खो रहा है वो बार बार अपना धीरज

क्युंकी शायद अनाज लेने के पैसे

भी नहीं कर पा रहा है खर्च



काम मिलने की चर्चा को अब हो गया था एक अरसा

ये वो बदल थे जो गरजा पर कभी नहीं था साला बरसा

माँ को एक छोटी सी ख़ुशखबरी सुनाने को में सालों था तरसा

फ़िर झूले बोल दिया था अबे मरता क्या न करता



फिर अकेले हूँ तो पता लगा

मेरा हिम्मत ही मेरा असली साथी है

और इस लड़ाई को लड़ने के लिए

मेरा खुद का साथ ही मेरा लिए काफ़ी है

एक अवाज बोलती थी ख़तम कहीं हुआ बे

फिल्म अभि बाकि है

हर कुत्ते का दिन आता है

साले फिर तो तु इक छोटा हाथी है



धुंधली थी राहें और अनजान था सफ़र

किस्मत का क्यूँ मुझे पे बरसा ऐसा कहर

बेजान थी जिंदगी और खुदा था बेखबर

ज़िन्दगी से हारा हूं मैं हूँ ऐसा मैं लूज़र



चीखने का मन करता था

कोइ साला मेरी हालत तो देखो

कुत्ते जैसे हालातों में रहा हूँ

मैं जाने कितने महिनो

ढंग से खाया भी नहीं था

कितेन दीनो यू नो

लेकिन एक बार किसी के मुंह से ये नहीं निकला

की तेरे को कुछ चाहिए डिनो



क्यूंकि असलियत यही है की

कोइ भी नहीं चाहता तुम्हारा भला हो जाये

कहने को सब साथ है

पर अकेले लड़नी है मेरे भाई तेरे को लड़ाई

पर देखना सब आ जायेंगे हिस्सा मांगने

जब फसल की होगी कटाई

ये जरुरी नहीं किसी की राय बन जाये तेरी सच्चाई



मैं जानता हूँ कैसे झेली है घुट घुट के ये सजा

पर दिल कहता था राजा बहुत जल्दी आने वाला है एक नंबर मज़ा

सब बिखरा हुआ था पर विश्वास था मैं फ़ैल नहीं हो सकता

क्यूंकी घर पे भूखी प्यासी धरने पे बैठी है मेरी माँ



खुद से जग हार कर जायेगा तू किधर

तुझको लाना पडेगा लड़ने का जिगर

होंगे सच सपने बस थोडा और कर सबर

तुझे भी जीतना है सुन ले तू लूज़र



You just finished reading Loser Dino James lyrics.Tell us how it was and how do you liked it.

Do not forget to subscribe to our notification to get latest song lyrics updates.

Till then.Stay lyrical.

No comments:

Post a Comment

 
Copyright © 2014 LyricsWhoop - Hindi song lyrics with love.. Designed by OddThemes | Icon made by smashicons from www.flaticon.com
Terms | Privacy and Cookie Policy